मेरी इबादत का कोई वक्त, मुकर्रर नही होता… तुम ख्यालों में आते हो.. हम सजदे में बैठ जाते हैं..!!!

अल्फाज़ की शक्ल में एहसास लिखा जाता है, यहाँ पर पानी को प्यास लिखा जाता है, मेरे जज़्बात से वाकिफ है मेरी कलम भी, प्यार लिखूं तो तेरा नाम लिखा जाता है।

हमेशा के लिए रख लो ना, पास मुझे अपने कोई पूछे तो बता देना, किरायेदार है दिल का!!

कुछ यूँ उतर गए हो मेरी रग-रग में तुम, कि खुद से पहले एहसास तुम्हारा होता है।

वो लम्हा बना दो मुझे… जो गुजर कर भी… तुम्हारे साथ रहे…!!

मेरे सीने में एक दिल है❤ उस दिल की धड़कन हो तुम…

पाना और खोना तो किस्मत की बात है, मगर चाहते रहना तो अपने हाथ में है।

होते तुम पास तो कोई शरारत करते… लेकर तुम्हे बाहों में बेपनाह मोहब्बत करते…

अच्छा लगता है हर रात तेरे ख्यालों में खो जाना जैसे दूर हो कर भी तेरी बाहों में सो जाना…

क्या क्या तेरे नाम लिखूं दिल लिखूं की जान लिखूं आंसू चुराके तेरी प्यारी आंखों से अपनी हर खुशी तेरे नाम लिखूं

next stori मैं बन जाऊं रेत सनम,, तुम लहर बन जाना…